27 जुलाई, 2009

चुनाव परिणाम

ग्राम प्रधान चुनाव के नतीजे आ गए थे , सुरेन्द्र जी बड़े परेशान से घर के आगे चारपाई डाल कर बैठे हुए थे . तभी उनके खेतों में काम करने वाला छोटे लाल आ और बोला "का बात है साहब बड़ा परेशान लागत हो ? ".

सुरेन्द्र जी बोले "चुनाव का नतीजा आ गया है बस उसे जान कर बड़ा दुखी हूँ "

छोटे लाल बोला "का भवा साहब, हम और हमरे घरवाली तो आपके ही वोट दिए रहे , लेकिन सुने हैं की जगदीश जीत गए हैं "

इतना सुनते ही सुरेन्द्र जी के चहरे का रंग बदल गया और वो बोले "का छोटेलाल, तू सही कह रहे हो की तू हमको वोट दिए हो "

छोटेलाल बोला "हाँ मालिक , हम और हमरे घरवाली आपही को वोट दिए हैं "

सुरेन्द्र जी ने दुबारा पूछा "सच कह रहे हो छोटेलाल या झूठ बोल रहे हो "

"नहीं सरकार हम सच बोल रहे हैं" छोटेलाल बोला .

सुरेन्द्र जी ने पास के पड़ा हुआ डंडा उठाया और लगे मारने छोटेलाल को तब तक और लोग आ गए और बोले "अरे सुरेन्द्र बाबु हार गए तो गरीब को मारोगे क्या "

सुरेन्द्र जी बोले "नहीं हम इसको इसलिए मार रहे हैं क्योंकि ये हमसे झूठ बोल रहा हैं "

लोगोने पूछा "अरे क्या झूठ बोल दिया इसने "

अभी थोडी देर पहले मतगणना केंद्र से आया और यहाँ बैठ कर सोच रहा था "मुझे केवल एक वोट मिला है, तो मेरे बीवी और बच्चोंने किसे वोट दिया है. तभी ये आ गया और बोलने लगा की "इसने और इसकी घरवाली ने मुझे वोट दिया हैं, बस इसी बात पर गुस्सा आ गया " .

9 टिप्‍पणियां:

  1. एक लम्बे अन्तराल के बाद ............आपकी पोस्ट पढ़कर बहुत ख़ुशी हुयी !
    कहा थे इतने दिनों से.......

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत lambe समय की बाद ana huva आपका............. अच्छा लगा आपका aana............ achhee पोस्ट के साथ ......

    उत्तर देंहटाएं
  3. हा हा हा हा ...आलोक भाई मजा आ गया ...पर आप इतने दिन थे कहाँ....का कोनो भाभी जी से डरा गए थे का :)

    उत्तर देंहटाएं
  4. भई आलोक जी, कईं महीने बाद प्रकट भये!
    ओर आते ही हँसी का पिटारा खोल दिया। बढिया पोस्ट्!!!

    उत्तर देंहटाएं
  5. अलोक धन्यवाद आमंत्रण स्वीकारने का ,
    ग्रामीण राजनीति का सब से बड़ा सत्य रोचक ढंग से उदघाटितकिया आनन्द आगया | मैं तो इससे जुडा रहा हूँ |

    उत्तर देंहटाएं
  6. मुझे आपका ब्लॉग बहुत अच्छा लगा! बहुत बढ़िया लिखा है आपने! अब तो मैं आपका फोल्लोवेर बन गई हूँ इसलिए आती रहूंगी!
    मेरे ब्लोगों पर आपका स्वागत है-
    http://seawave-babli.blogspot.com
    http://urmi-z-unique.blogspot.com
    http://khanamasala.blogspot.com
    http://amazing-shot.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  7. आलोक जी एक वोट की भी कीमत होती है। यकीन नहीं होता तो विधानसभा में एक वोट से हारे और अब केन्‍द्रीय मंत्री बने जोशीजी से पूछ लेना। :)

    उत्तर देंहटाएं

नमस्कार , आपकी टिप्पणी मेरे प्रयास को सार्थक बनाती हैं .